Latest News


More

Name of cyclone vardah given by pakistan

Posted by : Tapsi Sharma on : सोमवार, 12 दिसंबर 2016 0 comments
Tapsi Sharma


चक्रवाती तूफान वरदा चेन्नई तट से टकराया,भारी बारिश और बिजली गुल, तेज हवाओं से पेड़ गिरे



चेन्नई: बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफ़ान 'वरदा' चेन्नई के उत्तर में समुद्र तट से टकरा गया है. तूफ़ान की वजह से आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के तटीय इलाकों में तेज़ हवाएं चल रही हैं. भारी बारिश हो रही है और कई जगह पेड़ उखड़ गए हैं.

 Name of cyclone vardah given by pakistan

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, अगले 3 से 4 घंटे में यह तूफ़ान गुज़र जाएगा. चेन्नई एयरपोर्ट से फिलहाल सभी तरह के ऑपरेशन बंद हैं. तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में NDRF की 19 टीमें तैनात हैं. 130 से 140 किमी रफ़्तार से तेज़ हवाएं चल रही हैं.


खास बातें

  1. पाकिस्तान ने दिया था 'वरदा' नाम
  2. वरदा नाम का मतलब लाल गुलाब
  3. तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में हाई अलर्ट


नौसेना अपने ऑपरेशन 'मदद' के साथ तैयार है. नौसेना के दो युद्धपोत तैनात हैं और युद्धपोत पर मेडिकल टीमें, राहत सामग्री जैसे- कपड़े, कंबल और दवाइयां तैयार हैं. गोताखोरों की 22 टीमें तैयार हैं. सेना की 7 टुकड़ियां भी तैनात हैं.

तूफान के चलते कई इलाकों की बिजली को बंद कर दिया गया है, ताकि अनहोनी से बचा जा सके. तटीय इलाकों से लोगों को बाहर निकाला गया है. अगले 2 घंटे भारी बारिश की संभावना के चलते लोगों से घर में रहने की अपील की गई है.

 Name of cyclone vardah given by pakistan


भारतीय मौसम विभाग की ओर से पहले यह अनुमान जताया गया था कि यह अपनी तीव्रता कम करेगा,लेकिन बाद में कहा गया कि यह तट से टकराने के बावजूद कमजोर नहीं होगा.

कई इलाकों में सुबह से ही तेज बारिश

 
चेन्नई, तिरूवल्लूर एवं कांचीपुरम जिलों में सुबह से भारी बारिश हो रही है और इन जिलों में तेज हवाएं भी चल रही हैं. इन इलाकों के कई हिस्सों में एहतियातन विद्युत आपूर्ति बंद कर दी गई है. थल सेना, नौसेना एवं वायु सेना के साथ सशस्त्र बलों को भी तैयार रहने को कहा गया है ताकि कभी भी आवश्यकता पड़ने पर उन्हें तैनात किया जा सके.

पाकिस्तान ने दिया वरदा नाम


चक्रवर्तीय तूफ़ान वरदा का नाम पाकिस्तान ने दिया है. फ़िलहाल इस चक्रवात का असर बंगाल की खाड़ी में है. वरदा का मतलब है कि लाल गुलाब..

लोगों से अपील सावधानी बरतें



तमिलनाडु में एनडीआरएफ की सात और आंध्र प्रदेश में छह टीमें मौजूद हैं. वरदा से निपटने के लिए वायुसेना को भी हाई अलर्ट कर दिया गया है. लोगों से अपील की गई है कि तूफान के दौरान वे पेड़ों के नीचे न खड़े हों और न ही अपनी गाड़ियों को उनके आसपास लगाएं.

तमिलनाडु सरकार ने प्रभावित इलाकों में सार्वजनिक छुट्टी की घोषणा की

 
मछुआरों से अगले 48 घंटे तक समंदर में नहीं जाने को कहा गया है. वरदा के कारण तमिलनाडु सरकार ने प्रभावित इलाक़ों में आज सार्वजनिक छुट्टी की घोषणा की है. इसके तहत स्कूल-कॉलेज और दफ़्तर बंद रहेंगे.

आंध्र प्रदेश में भी हाई अलर्ट


 
इसके मद्देनजर आंध्र प्रदेश के एसपीएस नेल्लोर जिले को हाई अलर्ट पर रखा गया है. मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने नेल्लोर जिला प्रशासन से 255 निचले इलाकों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने का निर्देश दिया है. इसी बीच जिले में आज सुबह से बारिश हो रही है. वरदा के प्रभाव के कारण नेल्लोर और चित्तूर जिलों में भारी बारिश की संभावना है. नेल्लोर जिले के सूलूरपेटा मंडल में आज सुबह 30 लोगों को राहत शिविर में भेजा गया. दक्षिण मध्य रेलवे ने चक्रवात को देखते हुए सूलूरपेटा और चेन्नई के बीच चलने वाली कुछ सवारी रेलगाड़ियों को रद्द कर दिया है. विजयवाड़ा-चेन्नई-विजयवाड़ा पिनाकिनी एक्सप्रेस और कुछ अन्य एक्सप्रेस रेलगाड़ियों के मार्ग में परिवर्तन किया गया है.

Title: चक्रवाती तूफान वरदा चेन्नई तट से टकराया, भारी बारिश और बिजली गुल, तेज हवाओं से पेड़ गिरे



Description:  चक्रवाती तूफान वरदा चेन्नई के तट से टकरा गया है. तमिलनाडु के तटीय इलाकों में भारी बारिश हो  रही है. तेज हवाएं चल रही हैं, जिसके कारण पेड़ उखड़ गए हैं.


Keywords: बंगाल की खाड़ी, वरदा, चेन्नई, तमिलनाडु, चक्रवात तूफान, भारतीय मौसम विभाग, Indian Meteorological Department, Bay of Bengal, Chennai, Tamil Nadu, Andhra Pradesh, Vardah, Vardah Cyclone
Your Ad Here 2

कोई टिप्पणी नहीं:

Leave a Reply