Latest News


More

Aadesh Shrivastava Dies of Cancer

Posted by : Shekhar Gupta on : शनिवार, 5 सितंबर 2015 0 comments
Shekhar Gupta

संगीतकार आदेश श्रीवास्तव कैंसर से हारे जंग, मुंबई के अस्पताल में ली आखिरी सांस

मुंबई. मशहूर म्यूजिक कंपोजर आदेश श्रीवास्तव कैंसर से लंबी लड़ाई के बाद आखिरकार हार गए।  जानकारी के मुताबिक मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में शुक्रवार देर रात निधन हो गया। 51 साल के आदेश कैंसर से पीड़ित थे। डॉक्टरों ने उनके इलाज से पहले ही हाथ खड़े कर लिए थे और कीमियोथेरेपी भी बंद कर दी थी। बताया यह भी जा रहा है कि उनको रोज लगने वाला इंजेक्शन पर 12 लाख रूपए खर्च हो रहे थे।




गौरलतब है कि श्रीवास्तव दोबारा कैंसर का इलाज करवा रहे थे। आदेश पिछले करीब 45 दिनों से अंधेरी के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती थे।

कोकिलाबेन अस्पताल के डॉ राम नारायण ने कहा कि 51 साल के आदेश श्रीवास्तव का देर रात करीब साढ़े 12 बजे कोकिलाबेन अस्पताल में कैंसर के चलते निधन हो गया।



मध्य प्रदेश के जबलपुर में हुआ था आदेश का जन्म
आदेश श्रीवास्तव का जन्म 4 सितम्बर 1966 को मध्य प्रदेश के जबलपुर में हुआ था। उन्होंने 100 से भी ज्यादा फिल्मों में संगीत दिया। आदेश की पत्नी विजेता म्यूजिक कम्पोजर जोड़ी 'जतिन-ललित' की बहन हैं। विजेता एक एक्ट्रेस भी हैं।

फिल्म 'कन्यादान' से मिला बॉलीवुड में मौका

आदेश को 1993 में फिल्म 'कन्यादान' से हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में ब्रेक मिला था। उस फिल्म में लता मंगेशकर ने गीत गाया था लेकिन फिल्म किन्हीं कारणों से रिलीज नहीं हो पाई थी। फिल्म 'आओ प्यार करें' का गाना 'हाथों में आ गया जो...' काफी लोकप्रिय हुआ था। इस गाने ने ही आदेश को बॉलीवुड में पहचान दिलाई।

सुनील शेट्टी की फिल्म 'शस्त्र' का गीत 'क्या अदा क्या जलवे तेरे पारो' ने भी आदेश के करियर में नए आयाम जोड़े थे। म्यूजिक कंपोजिंग के अलावा आदेश ने 'शावा-शावा' और 'शोना-शोना' जैसे गाने गाए। उन्होंने टीवी पर 'सारेगामापा' शो को भी जज किया। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आदेश ने एकोन, डोमोनिक मिलर, शकीरा जैसे स्टार्स के साथ भी मिलकर काम किया।


Your Ad Here 2

कोई टिप्पणी नहीं:

Leave a Reply