Latest News


More

Hindu Minority in Seven States

Posted by : Sudhir Soni on : गुरुवार, 27 अगस्त 2015 0 comments
Sudhir Soni
Saved under : ,

सात राज्यों में अल्पसंख्यक हैं हिंदू

नई दिल्ली, [हरिकिशन शर्मा]। राजनीतिक दल अल्पसंख्यकों के नाम पर भले ही किसी धर्म विशेष के अधिकारों की वकालत करते हों लेकिन हकीकत यह है कि देश में बहुसंख्यक माना जाने वाला हिंदू समुदाय भी सात राज्यों तथा एक केंद्र शासित प्रदेश में अल्पसंख्यक है। कई प्रदेश तो ऐसे हैं जहां हिंदुओं की आबादी 10 फीसद से भी कम है। 



जनगणना-2011 के अनुसार मिजोरम, नगालैंड, मेघालय, जम्मू-कश्मीर, अरुणाचल प्रदेश, पंजाब, मणिपुर और लक्षद्वीप में हिंदू समुदाय अल्पसंख्यक है। ये प्रदेश ईसाई या मुस्लिम बहुल हैं। कई प्रदेशों की कुल आबादी में हिंदुओं का अनुपात तेजी से कम हुआ है। 

 राज्यवार देखें तो मिजोरम ऐसा राज्य है जिसकी कुल आबादी में हिंदुओं का अनुपात काफी कम है। 2011 की जनगणना के अनुसार मिजोरम में मात्र 2.75 फीसद हिंदू हैं। 2001 में वहां 3.55 फीसद हिंदू थे लेकिन बीते दस वर्षों में उनकी आबादी का फीसद घट गया। इसी तरह लक्षद्वीप में 2001 में 3.66 फीसद हिंदू थे जो 2011 में घटकर मात्र 2.77 फीसद रह गए हैं। इसी तरह जम्मू-कश्मीर में भी हिंदुओं का प्रतिशत 29.63 से घटकर 28.44 रह गया है। 

पूर्वोत्तर के ही नगालैंड और मेघालय में भी हिंदू अल्पसंख्यक हैं। इन दोनों प्रदेशों में हिंदुओं की आबादी क्रमश: 8.75 फीसद और 11.53 फीसद है। मणिपुर में हिंदुओं की आबादी 41.39 फीसद है जबकि 2001 में यह 46.01 फीसद थी। इसी तरह अरुणाचल प्रदेश में हिंदुओं की आबादी 34.60 से घटकर 29.04 फीसद रह गई है।

पंजाब में भी हिंदू अल्पसंख्यक हैं। यह राज्य सिख बहुल है और यहां पर हिंदुओं की आबादी 38.49 फीसद है। जिन राज्यों में हिंदू अल्पसंख्यक हैं उनमें से कई में उनकी जनसंख्या वृद्धि की दर भी काफी कम है। नगालैंड में तो 2001 से 2011 के बीच हिंदुओं की वृद्धि नकारात्मक रही। 2001 से 2011 के बीच पूरे देश में जहां हिंदुओं की आबादी में 16.8 फीसद वृद्धि हुई वहीं केरल में मात्र 4.9 फीसद और लक्षद्वीप में 6.3 फीसद की दर से हिंदुओं की संख्या बढ़ी। 

हिंदू आबादी का फीसद 

मिजोरम-2.75 
लक्षद्वीप-2.77 
जम्मू-कश्मीर-28.44 
नगालैंड-8.75 
मेघालय-11.53 
मणिपुर-41.39 
अरुणाचल प्रदेश-29.04 
पंजाब-38.4
Your Ad Here 2

कोई टिप्पणी नहीं:

Leave a Reply